भारत में नई बाइक और कारें

बुगाटी शिरोन पर स्पोर्ट को यूरोप में किया गया शोकेस, मिलेगा 8-लीटर W16 इंजन

बुगाटी ने प्रोजैक्ट पूरा कर लिया है और यूरोप में दोबारा काम शुरू करते हुए बुगाटी शोरूम, खास चुनिंदा ग्राहकों के लिए शिरोन पर स्पोर्ट को शोकेस किया है.

फोटो देखें
बुगाटी ने ट्विटर के माध्यम से शिरोन पर स्पोर्ट की पिक्चर्स साझा की हैं

पिछले कुछ समय से बुगाटी के इंजीनियर्स काफी व्यस्त चल रहे थे जिसकी वजह बुगाटी शिरोन का ट्रैक के लिए केंद्रित वर्ज़न है. ये काम ऐसे समय पर किया जा रहा है जब दुनियाभर के लोगों को घर में रहने के अलावा कोई विकल्प दिखाई नहीं दे रहा, वहीं बुगाटी ने भी फिलहाल शिरोन और डीवो का उत्पदन रोक रखा है. हालांकि इस टीन ने सभी ज़रूरी सावधानियां बरती हैं जिससे कोरोना वायरस महामारी से बचा जा सके, इसी की वजह से इस काम को करने में और भी चुनौतियों का सामना करना पड़ है और समय भी काफी लगा है. बहरहाल, बुगाटी ने ये प्रोजैक्ट पूरा कर लिया है और अब यूरोप में दोबारा काम शुरू करते हुए बुगाटी ने अपने शोरूम और खास चुनिंदा ग्राहकों के लिए शिरोन पर स्पोर्ट को शोकेस किया है.

56c7hsf8कार के उत्पादन में 80% नए पर्ज़ों का इस्तेमाल किया गया है

बुगाटी ने ट्विटर के माध्यम से शिरोन पर स्पोर्ट की पिक्चर्स साझा की हैं. बुगाटी ने पहले जैसे बेसिक आर्किटैक्चर, बॉडी डिज़ाइन और सामान्य शिरोन वाले इंजन के साथ नई कार को डेवेलप किया है, लेकिन मैग्निशियम व्हील्स लगने से ये कार 50 किग्रा हल्की होने के अलावा 3डी-प्रिंटेड टाइटेनियम एग्ज़्हॉस्ट टिप, हल्के डिस्क ब्रेक्स और पिछले हिस्से में फिक्स रियर विंग दिया है जो बिना किसी एयरोडायनामिक्स सिस्टम के साथ आया है. इंजीनियर्स ने कार के सस्पेंशन सेटअप को अधिक उन्नत बनाया है जिसमें बदले हुए डैंपर्स, कड़क स्प्रिंग्स और ज़्यादा नेगेटिव केंबर दिए गए हैं. कार के व्हील्स बिल्कुल नए मिशेलिन पायलट स्पोर्ट कप 2 टियर कंपाउंड के साथ आते हैं.

ये भी पढ़ें : पॉर्श ने नई जनरेशन 911 टारगा से हटाया पर्दा, 2021 की शुरुआत में भारत में लॉन्च

kiams2sgइंजीनियर्स ने कार के सस्पेंशन सेटअप को अधिक उन्नत बनाया है
0 Comments

बुगाटी शिरोन पर स्पोर्ट के साथ 8.0-लीटर W16 इंजन दिया गया है जो 1,479 bhp पावर और 1,600 Nm पीक टॉर्क जनरेट करने की क्षमता रखता है. कार का इंजन अब कम आरपीएम पर बेहतर प्रदर्शन करने के हिसाब से डेवेलप किया गया है. कंपनी ने कार के इंजन में दिए गए गियरबॉक्स पर भी दोबारा काम किया है जो नज़दीकी अनुपात उपलब्ध कराता है और कार के उत्पादन में 80प्रतिशत नए पर्ज़ों का इस्तेमाल किया गया है. लेकिन एयरोडायनामिक्स में कमी के चलते सामान्य डुकाटी शिरोन में मिलने वाली 420 किमी/घंटा रफ्तार घटकर 350 किमी/घंटा पर आ पहुंची है.