भारत में नई बाइक और कारें

कोरोनावायरस: मारुति सुज़ुकी की बिक्री बढ़ाने के लिए विशेष लोन योजनाएं

कंपनी की नई स्कीम के हिसाब से ग्राहक अभी कार ले कर भुगतान बाद में कर सकते हैं. इसके अलावा 90 % तक ऑन रोड फंडिंग का भी विकल्प है.

फोटो देखें
यह ऑफर 30 जून, 2020 तक या इससे पहले होने वाले लोन पर ही लागू होंगे.

मारुति सुज़ुकी इंडिया भारत में कारों की बिक्री को बढ़ावा देने के लिए आकर्षक लोन योजनाओं के साथ सामने आई है. लॉकडाउन 4.0 के नियमों में छूट मिलने के बाद कंपनी के कई डीलरों ने काम शुरू कर दिया है और अब तक 5,000 से भी ज़्यादा कारों की डिलीवरी हो चुकी है. कंपनी ने चोलामंडलम इन्वेस्टमेंट एंड फाइनेंस कंपनी के साथ कई लोन विकल्प पेश किए हैं जैसी अभी कार ले कर बाद में भुगतान करना और 90 % तक ऑन रोड फंडिंग लेना. इसके अलावा लंबे कार्यकाल के लोन भी लिए जा सकते हैं. मारुति सुज़ुकी  का कहना है कि इस साझेदारी का उद्देश्य ग्राहकों को ख़ुद की कारें दे कर सामाजिक दूरी को बनाए रखना है.

o6e4qttk

ग्राहकों के पास अपनी ईएमआई को 60 दिनों तक टालने का विकल्प होगा

कंपनी के सेल्स और मार्केटिंग के कार्यकारी निदेशक शशांक श्रीवास्तव ने कहा, "मारुति सुज़ुकी की कोशिश हमेशा ग्राहकों को निजी कारों का मालिक बनाना का रहती है. चोलामंडलम इन्वेस्टमेंट एंड फाइनेंस कंपनी लिमिटेड के साथ साझेदारी से इस सोच को बढ़ावा मिलेगा. कस्टमाइज्ड रिटेल फाइनेंस उन खरीदारों को सहूलियत देगा जिन्हें COVID-19 लॉकडाउन के दौरान पैसे की कमी का सामना करना पड़ सकता है. मुझे यकीन है कि "Buy-Now-Pay-later Offer" ग्राहकों को प्रोत्साहित करेगा. वह अपनी जेब पर तत्काल अतिरिक्त दबाव डाले बिना कार ख़रीद सकते हैं"

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन 4.0: मारुति सुज़ुकी ने 5,000 कारों की डिलीवरी का आंकड़ा पार किया

0 Comments

अब खरीदें, बाद में भुगतान करें योजना के तहत, जो ग्राहक कोरोनावायरस महामारी के चलते शुरू में कम खर्च करना चाहते हैं उनके पास अपनी ईएमआई को 60 दिनों तक टालने का विकल्प होगा. हालाँकि, यह ऑफर चुनिंदा मारुति सुज़ुकी की कारों पर ही उपलब्ध है और यह 30 जून, 2020 तक या इससे पहले होने वाले लोन पर ही लागू होगा. इस सप्ताह के शुरू में ही टाटा मोटर्स और महिंद्रा की तरफ से भी इसी तरह की स्कीम का एलान किया गया था