भारत में नई बाइक और कारें

कोरोनावायरस: टैक्सी में सामाजिक दूरी बनाए रखने की अनूठी पहल

केरल की एक निजी कैब कंपनी ने एर्नाकुलम जिला प्रशासन के सुझावों के बाद कोरोनोवायरस के प्रसार को रोकने के लिए ड्राइवर और यात्रियों के बीच अपनी कैब में एक विभाजन लगाया है.

फोटो देखें
यह पहल चालक और यात्रियों को एक दूसरे के संपर्क में आने से रोकेगी.

जैसे-जैसे देश में कोरोनावायरस के मामले दिन-ब-दिन बढ़ रहे हैं, राज्य और केंद्र सरकारें महामारी को रोकने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रही हैं. भारत भर में कई कंपनियां और संस्थांए भी महामारी के प्रसार को रोकने के लिए कई प्रयास कर रही हैं. केरल की एक निजी टैक्सी कंपनी ने कैब में ड्राइवर सीट और पीछे वाली यात्री सीट के बीच एक विभाजन लगाया है जिससे सामाजिक दूरी बनाए रखी जा सके. यह पहल एर्नाकुलम जिला प्रशासन से सुझाव मिलने के बाद की गई है.

कंपनी की कैब्स को विदेश से आने वाली उड़ानों और जहाजों द्वारा लौटने वाले लोगों की सेवा के लिए तैनात किया गया है. चालक और यात्रियों के बीच इस विभाजन के आर-पार देखा जा सकता है साथ ही सामाजिक दूरी भी बनी रहती हैं. यह पहल चालक और यात्रियों को एक दूसरे के संपर्क में आने से रोकेगी और वायरस का प्रसार रोकने में भी मदद मिलेगी. क्योंकि इन कैब्स में सवारी करने वाले भारतीय कई देशों से आ रहे हैं, ड्राइवरों के वायरस के संपर्क में आने की संभावना अधिक हो सकती है.

यह भी पढ़ें: ई-रिक्शा चालक की सोशल डिस्टेंसिंग तकनीक को मिली आनंद महिंद्रा की प्रशंसा

0 Comments

हाल ही में, हमने पश्चिम बंगाल से एक ऐसा वीडियो देखा, जो इंटरनेट पर उभरा, जिसमें ई-रिक्शा चालक ने यात्रियों के बीच सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने के लिए वाहन को कई हिस्सों में बांट दिया. वीडियो तुरंत वायरल हो गया था और इसमें महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा का भी ध्यान गया. उन्होंने इस रिक्शा चालक की अपनी कंपनी के आरएंडडी विभाग में काम करने की बात तक कह डाली. 

Be the first one to comment
Thanks for the comments.