भारत में नई बाइक और कारें

BS4 स्टॉक पर डीलरों को राहत की उम्मीद; सुप्रीम कोर्ट में याचिका पर सुनवाई आज

बाइक और कार निर्माताओं की मानें तो करीब 6,100 करोड़ रुपये का BS4 माल अभी भी कई डीलरों के पास पड़ा है जो देश में लॉकडाउन के चलते बेचा नहीं जा सकता.

फोटो देखें
डीलरशिप्स में लगभग 7 लाख से ऊपर दोपहिया वाहन और कार बिकने का इंतज़ार कर रहे हैं.

कोरोनोवायरस महामारी के चलते घरेलू दोपहिया और कार बाजार एक भारी संकट में घिर गया है. पूरे देश में लॉकडाउन के कारण डीलरों को प्रतिबंधों का सामना करना पड़ रहा है जिसका मतलब ये है कुछ नई बिक्री नहीं हो पा रही है. शेष BS4 इन्वेंट्री को खाली करने के लिए दबाव हैं और समय सिर्फ 31 मार्च तक का है. बाइक और कार निर्माताओं की मानें तो करीब 6,100 करोड़ रुपये का न्यूनतम BS4 माल अभी भी कई डीलरों के पास पड़ा है जो अब पूरे देश में लॉकडाउन के चलते बेचा नहीं जा सकता. संख्या की बात करें तो अब भी डीलरशिप्स में लगभग 7 लाख से ऊपर दोपहिया वाहन और कार बिकने का इंतज़ार कर रहे हैं.

p671hlt4
20,000 से अधिक डीलर आउटलेट अब लॉकडाउन में बंद हैं

आज का दिन इन डीलरों के लिए कुछ अच्छी ख़बर ले कर आ सकता है. 31 मार्च की आखरी तारीख़ को आगे बढ़ाने के लिए फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (FADA) सर्वोच्च न्यायालय में गुहार लगाई है. हांलाकि कुछ समय पहले ही न्यायालय ने अपील को ठुकरा दिया था लेकिन आज दिन में 3 बजे एक बार फिर इसकी सुनवाई की जाएगी. एफएडीए ने 31 मार्च,2020 तक की प्रारंभिक समय सीमा 31 मई, 2020 तक बढ़ाने की अर्ज़ी दी है.

0 Comments

ये भी पढ़ें : कोरोना से लड़ाईः महिंद्रा ने महज़ 48 घंटे में तैयार किया वेंटिलेटर का प्रोटोटाइप

कारंडबाइक से बात करते हुए FADA के अध्यक्ष आशीष काले ने मौजूदा स्थिति की गंभीरता की बात की. "20,000 से अधिक डीलर आउटलेट अब लॉकडाउन में बंद हैं. FADA को BS4 की सेल की एक्सटेंशन के लिए सुप्रीम कोर्ट से राहत की बहुत उम्मीद है क्योंकि यह एक मुशकिल स्थिति है."
ऐसी संभावना भी है कि समय सीमा नहीं बढ़ाई जाएगी. उस मामले पर भी प्रकाश डालते हुए काले ने कहा,"डीलरों को सर्वोच्च न्यायालय से राहत नहीं मिलने की स्थिति में, डीलरों के लिए केवल एक अन्य विकल्प न बिके हुए वाहनों को कंपनियों को वापस करना होगा"
Be the first one to comment
Thanks for the comments.