भारत में नई बाइक और कारें

जल्द शुरू हो सकती है पेट्रोल, सीएनजी की होम डिलिवरी

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि डीज़ल की डोरस्टेप डिलीवरी शुरू होने के बाद यह सुविधा पेट्रोल और सीएनजी के लिए भी दी जा सकती है.

फोटो देखें
इंडियन ऑयल ने 2018 में डीज़ल की होम डिलीवरी शुरू की थी.

ग्राहकों की अधिक सुविधा के लिए केंद्र सरकार पेट्रोल के साथ-साथ सीएनजी की भी होम डिलीवरी शुरू करने की योजना बना रही है. पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इस दिशा में संकेत दिया है. डीजल की डोरस्टेप डिलीवरी शुरू होने के बाद अब तेल कंपनियों द्वारा पेट्रोल और सीएनजी भी घर पहुंचाए जाएंगे. सरकार का मकसद है लॉकडाउन के दौरान वाहन मालिकों की मदद करना. यह कदम इसलिए उठाया जा रहा है क्योंकि देश भर में लगाए गए प्रतिबंधों के कारण ईंधन मिलना आसान नहीं है.

यह भी पढ़ें: कोरोनावायरस लॉकडाउन: पेट्रोल पंप मालिकों ने आर्थिक राहत की मांग की

db1vtue
पीटीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार, मंत्री ने कहा कि सरकार डीज़ल की तरह ही पेट्रोल और सीएनजी को भी लोगों तक पहुंचाना चाहेगी. उन्होंने यह भी बताया कि सरकार एक एसी योजना बना रही है जिस्से पेट्रोल, डीज़ल, सीएनजी, एलएनजी और एलपीजी जैसे हर प्रकार के ईंधन एक ही जगह पर बेचे जा सकें. प्रधान ने 11 राज्यों में 56 नए सीएनजी स्टेशनों के उद्घाटन के दौरान यह जानकारी दी जिसमें महाराष्ट्र, नई दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, पंजाब, राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और तेलंगाना शामिल हैं.
7fhdv13g

सरकार पेट्रोल, डीज़ल, सीएनजी, और एलपीजी जैसे हर प्रकार के ईंधन एक ही जगह बेचने की याजना बना रही है.

0 Comments

प्रधान ने कहा कि सरकार ने पहले ही डीज़ल के लिए मोबाइल डिस्पेंसर शुरू कर दिए हैं और यहां सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जा रहा है. वह इसलिए क्योंकि ज्वलनशील प्रकृति के कारण पेट्रोल और सीएनजी की होम डिलीवरी सुरक्षा जोखिम पैदा कर सकती है. सरकारी तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्प ने सितंबर 2018 में एक मोबाइल डिस्पेंसर के माध्यम से डीजल की होम डिलीवरी शुरू की थी. हालांकि, यह सेवा कुछ शहरों तक ही सीमित है.

Be the first one to comment
Thanks for the comments.