carandbike logo

जीप 2022 तक भारतीय बाज़ार में लॉन्च करेगी चार नई मेड-इन-इंडिया SUV

language dropdown

भारतीय बाज़ार में जीप उत्पादों की संख्या में इज़ाफा करेगी जिसके लिए कंपनी 250 मिलियन डॉलर यानी करीब रु 1,830 करोड़ निवेश करने वाली है. पढ़ें पूरी खबर...

चारों नए उत्पादों को अगले साल के अंत तक लॉन्च किया जाएगा expand फोटो देखें
चारों नए उत्पादों को अगले साल के अंत तक लॉन्च किया जाएगा

एफसीए इंडिया ने आधिकारिक ऐलान किया है कि भारतीय बाज़ार में कंपनी अपने उत्पादों की संख्या में इज़ाफा करेगी जिसके लिए कंपनी 250 मिलियन डॉलर यानी भारतीय मुद्रा में करीब रु 1,830 करोड़ निवेश करने वाली है. निर्माता कंपनी निवेश की रकम का इस्तेमाल नई जीप SUV के उत्पादन में करेगी जिनमें भारत में बनी नई 2021 जीप कम्पस, घरेलू उत्पादन वाली तीन पंक्ति की जीप SUV, रैंगलर और नई जनरेशन ग्रैंड चिरोकी शामिल हैं. भारतीय बाज़ार में इन चारों नए उत्पादों को अगले साल के अंत तक लॉन्च किया जाएगा.

2019 jeep wranglerजीप रैंगलर और नई जनरेशन ग्रैंड चिरोकी SUV को राजनांदगांव में असेंबल किया जाएगा

कार निर्माता ने यह ऐलान भी किया है कि जीप रैंगलर और नई जनरेशन ग्रैंड चिरोकी SUV को एफसीए के राजनांदगांव में असेंबल किया जाएगा. ऐसे में घरेलू असेंबली से इन दोनों कारों की कीमत थोड़ी कम होने का अनुमान लगाया जा रहा है. इस घोषणा के बाद फिलहाल के लिए जीप रेनेगेड SUV को भारत में लॉन्च करने का प्लान आगे बढ़ गया है. इसके अलावा जिनकी घोषणा की गई है, उन वाहनों का लॉन्च भी 2022 से आगे बढ़ सकता है. 2021 जीप कम्पास फेसलिफ्ट 7 जनवरी को भारत में पेश की जाएगी जिसका उत्पादन पहले ही शुरू किया जा चुका है.

ये भी पढ़ें : 2021 जीप कम्पस फेसलिफ्ट को बिना ढके हुए देखा गया, हुआ कैबिन का ख़ुलासा

0 Comments

जीप की एच6 कोडनेम वाली लग्ज़री सात-सीटर मिड-साइज़ SUV की बिक्री 2022 में शुरू की जाएगी. जीप इंडिया के उत्पादन पोर्टफोलियो में नई SUV की जगह कम्पस और ग्रैंड चिरोकी के बीच की होगी. इसका मुकाबला भारतीय बाज़ार में टोयोटा फॉर्च्यूनर और बाकी मिड-साइज़ कारों से होगा. इस बारे में बात करते हुए एफसीए इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर, डॉ पार्था दत्ता ने कहा कि, "250 मिलियन डॉलर का हमारा नया निवेश कई सारे सेगमेंट में मुकाबले को और दमदार बनाएगा जिसमें नई जीप SUV राजनांदगांव से बाज़ार में आएंगी. यह निवेश हमारे 450 मिलियन डॉलर के निवेश में जोड़ा गया है जो पिछले 5 साल से भारत में कामकाज पर लगाया जा चुका है."

आप जिसमें इंटरेस्टेड हो

Be the first one to comment
Thanks for the comments.