भारत में नई बाइक और कारें

मंदी को लेकर ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री की मांग पर जवाब देगी सरकार - फायनेंस मिनिस्टर

language dropdown

भारतीय ऑटो इंडस्ट्री कुछ महीने से बिक्री में भारी गिरावट देख रही है, अगस्त 2019 में इंडस्ट्री की कुल बिक्री दो दशक में सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई है.

expand फोटो देखें
अगस्त 2019 में इंडस्ट्री की कुल बिक्री दो दशक में सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई है

भारतीय ऑटोमोबाइल जगत में आई मंदी पर फायनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने कहा है कि सरकार ऑटो इंडस्ट्री की मांग पर जवाब देगी. ऑटो इंडस्ट्री पिछले कुछ महीने से बिक्री में भारी गिरावट देख रही है और अगस्त 2019 में इंडस्ट्री की कुल बिक्री दो दशक में अपने सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई है. ऐसे में कंपनियों ने एकजुट होकर सरकार से फिलहाल लग रहे जीएसटी में कमी करने की मांग की है, फिर चाहे वो कुछ समय में लिए क्यों ना हो. एएनआई ने कोट किया है निर्मला सीतारमण ने कहा कि, "ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री BS6 और मिलेनियल माइंडसेट से अभी प्रभावित हुई है, अब ग्राहक कार खरीदने की जगह ओला और उबेर इस्तेमाल कर रहे हैं."

ये भी पढ़े : हाईब्रिड वाहनों पर दिया जाए इलैक्ट्रिक वाहनों वाला GST बेनिफिट - नितिन गडकरी

अगस्त 2019 के आंकड़े बताते हैं कि 1997-98 के बाद बिक्री में पहली बार इतनी बड़ी गिरावट देखी गई है. दो-पहिया वाहनों की बिक्री 3 साल में सबसे कम आंकी गई है. पैसेंजर वाहनों की कुल बिक्री में 31.57% की गिरावट देखी गई है, अगस्त 2018 में बिके 2,87,198 यूनिट वाहन के मुकाबले अगस्त 2019 में कंपनी 1,96,524 वाहन बेच पाई है. इनमें सबसे ज़्यादा घाटा पैजेंजर कार बिक्री में हुआ है जिसमें 41.09% गिरावट दर्ज की गई है. शुक्र है कि यूटिलिटी वाहनों की बिक्री में मामूली 2.2% की गिरावट देखी गई है. वैन सैगमेंट में भी इंडस्ट्री ने भारी 47.36% की कमी दर्ज की है.

ये भी पढ़े : 1997-98 के बाद सबसे बुरे स्तर पर पहुंची देश के ऑटोमोबाइल सैक्टर की मासिक बिक्री

0 Comments

भारतीय ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री ने थ्री-व्हीलर्स की बिक्री में 22.24% की गिरावट दर्ज की है, अगस्त 2018 में बिकी 19,47,304 यूनिट के मुकाबले अगस्त 2019 में 15,14,196 यूनिट बिक पाई हैं. स्कूटर्स, मोटरसाइकल और मोपेड की बिक्री में क्रमशः 22%, 22 % और 21% की कमी देखी गई है. मीडियम और हेवी कमर्शियल व्हीकल्स की बिक्री में भी भारी कमी आई है और 54.3% की कमी के साथ कंपनियों ने अगस्त 2019 में महज़ 15,573 वाहन बेचे हैं जो आंकड़ा पिछले साल इसी समय 34,073 पर था. हल्के कमर्शियल वाहनों की बिक्री में भी 28.21% की गिरावट दर्ज की गई है.

You might be interested in

New Car Models

टोयोटा अर्बन क्रूजर

एसयूवी, 17.03 - 18.76 Kmpl
टोयोटा अर्बन क्रूजर
Price Starts
₹ 8.4 - 11.3 लाख
EMI Starts
₹ 17,437 9% / 5 yrs

किया सॉनेट

एसयूवी, 18.2 - 24.1 Kmpl
किया सॉनेट
Price Starts
₹ 6.71 - 11.99 लाख
EMI Starts
₹ 13,929 9% / 5 yrs

ऑडी आरएस क्यू8

एसयूवी, 8.2 Kmpl
ऑडी आरएस क्यू8
Price Starts
₹ 2.07 करोड़
EMI Starts
₹ 4,29,698 9% / 5 yrs

होंडा जैज़

हैचबैक, 17.1 - 18.2 Kmpl
होंडा जैज़
Price Starts
₹ 7.5 - 9.74 लाख
EMI Starts
₹ 15,567 9% / 5 yrs
ऑडी आरएस7 स्पोर्टबैक
Price Starts
₹ 1.94 करोड़
EMI Starts
₹ 4,02,712 9% / 5 yrs

होंडा सिटी

सेडान, 17.8 - 24.1 Kmpl
होंडा सिटी
Price Starts
₹ 10.89 - 14.64 लाख
EMI Starts
₹ 22,606 9% / 5 yrs

ह्युंडई ट्यूशॉ

एसयूवी, 12.95 - 16.38 Kmpl
ह्युंडई ट्यूशॉ
Price Starts
₹ 22.3 - 27.03 लाख
EMI Starts
₹ 46,291 9% / 5 yrs

एमजी हेक्टर प्लस

एसयूवी, 13 - 17 Kmpl
एमजी हेक्टर प्लस
Price Starts
₹ 13.74 - 18.69 लाख
EMI Starts
₹ 28,518 9% / 5 yrs