carandbike logo

दक्षिण अफ्रीका के लिए भारत में बनी रेनॉ क्विड ने ग्लोबल NCAP क्रैश टेस्ट में 2 सितारे हासिल किए

language dropdown

रेनॉल्ट Kwid हैचबैक जिसे दक्षिण अफ्रीका में बेचा जाता है, भारत से निर्यात होती है और चेन्नई के पास ओरगादाम में कंपनी के कारख़ाने में बनाई जाती है.

कार पर 64 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दुर्घटना-परीक्षण किया गया. expand फोटो देखें
कार पर 64 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दुर्घटना-परीक्षण किया गया.

ग्लोबल NCAP ने कुछ नए 'सेफ कार्स फॉर अफ्रीका' क्रैश टेस्ट परिणाम जारी किए हैं, और टैस्ट की गई कारों में से एक रेनॉ क्विड भी है. 64 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दुर्घटना-परीक्षण करने पर कार बडो़ं और बच्चों दोनों के के लिए 2-स्टार सुरक्षा रेटिंग हासिल करने में सफल रही है. दिलचस्प बात यह है कि रेनॉ क्विड हैचबैक जिसे दक्षिण अफ्रीका में बेचा जाता है, भारत से निर्यात की जाती है और इस चेन्नई के पास ओरगादम में कंपनी के कारख़ाने में बनाया जाता है.

h926c4b8

चालक के सिर और गर्दन क्षेत्र पर अच्छी सुरक्षा दिखाई दी, हालांकि सीने को कमजोर सुरक्षा मिली.

अफ्रीका में, हाल ही में फेसलिफ्ट के साथ रेनॉ क्विड में 2 एयरबैग दिए गए हैं, साथ ही फ्रंट सीट-बेल्ट में मानक के रूप में प्री-टेंशनर्स और लोड लिमिटर्स भी मिलते हैं. कार ने बड़ों के लिए अधिकतम 17 में से 7.78 अंक हासिल किए, और बच्चों की सुरक्षा के लिए 49 में उसे 19.89 अंक मिले. चालक के सिर और गर्दन के क्षेत्र में अच्छी सुरक्षा दिखाई दी, हालांकि, सीने में कमजोर सुरक्षा दिखाई दी. ग्लोबल एनकैप का कहना है कि अस्थिर बॉडी और फुटवेल के कारण कार को 2 स्टार मिले. बच्चों के के मामले में सिर कार के इंटीरियर से लग गया. साथ ही कार में हर सीट पर 3-प्वॉन्ट सीट बेल्ट और ISOFIX ऐंकर की कमी ने भी 2-स्टार रेटिंग में योगदान किया.

यह भी पढ़ें: मारुति सुजुकी एस-प्रेसो के अफ्रीकी मॉडल को बताया गया ज़्यादा सुरक्षित

0 Comments

ग्लोबल NCAP का भारत में बेची जाने वाले फेसलिफ्टेड Renault Kwid का परीक्षण करना बाकी है. इसमें अफ्रीका वाली कार जैसे मानक सुरक्षा फीचर नहीं हैं. ख़ासतैर पर इसको यात्री एयरबैग मानक रूप में नहीं मिलता है, और यह क्रैश टेस्ट स्कोर को प्रभावित कर सकता है.

Newsbeep

आप जिसमें इंटरेस्टेड हो

नाइ कार मॉडल्स

Be the first one to comment
Thanks for the comments.