भारत में नई बाइक और कारें

महिंद्रा के2 सीरीज ट्रैक्टरों का निर्माण करने के लिए तेलंगाना प्लांट में 100 करोड़ का निवेश करेगी

महिंद्रा एंड महिंद्रा कंपनी ने तेलंगाना में अपने नए के2 सीरीज के ट्रैक्टरों का निर्माण विशेष रूप से जहीराबाद में करने की घोषणा की है.

इन ट्रैक्टरों को जापान की प्रमुख कार कंपनी मित्सुबिशी के साथ मिलकर बनाया जा रहा है expand फोटो देखें
इन ट्रैक्टरों को जापान की प्रमुख कार कंपनी मित्सुबिशी के साथ मिलकर बनाया जा रहा है

महिंद्रा एंड महिंद्रा कंपनी ने तेलंगाना राज्य में अपने नए के2 सीरीज के ट्रैक्टरों का निर्माण विशेष रूप से जहीराबाद में करने की घोषणा की है. यह महिंद्रा फार्म इक्विपमेंट सेक्टर (FES) महत्वाकांक्षी लाइट-वेट ट्रैक्टर प्रोग्राम है. इन ट्रैक्टरों को जापान की प्रमुख कार कंपनी मित्सुबिशी के साथ मिलकर बनाया जा रहा है. इन नए मॉडलों के जरिए कंपनी की नजर घरेलू और विदेशी बाजारों में अपनी स्थिति को और ज्यादा मजबूत करने पर है. यह प्रोग्राम मित्सुबिशी महिंद्रा एजी मशीनरी ऑफ जापान और महिंद्रा रिसर्च वैली की टीम ने मिलकर तैयार किया है. नए के2 सीरीज ट्रैक्टरों के लिए कंपनी जहीराबाद में रु 100 करोड़ का निवेश करेगी और साथ ही 2024 तक रोजगार को दोगुना करने की भी योजना है.

qckrvrl8तेलंगाना प्लांट कि सालाना उत्पादन क्षमता एक लाख ट्रैक्टर की है
महिंद्रा ऐंड महिंद्रा लिमिटेड के कार्यकारी निर्देशक (ऑटोमोटिव एवं फार्म सेक्टर) राजेश जेजुरिकर ने कहा, 'के2 एक महत्वाकांक्षी और महत्त्वपूर्ण ट्रैक्टर प्रोग्राम है जिसका उद्देश्य एक लाइट-वेट प्लेटफॉर्म तैयार करना है. के2 सीरीज विभिन्न क्षेत्रों और बाजारों के ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए तैयार किया जा रहा है. उन्होंने कहा, हमारे जहीराबाद फैसिलिटी को हमेशा तेलंगाना सरकार से अच्छा समर्थन मिला है. यह जगह सभी तरह की चुनौतियों से निपटने में सक्षम है.
tll07fng
तेलंगाना प्लांट में कुल कर्मचारियों की संख्या 1,500 है, 2024 तक रोजगार को दोगुना करने की योजना है
महिंद्रा का कहना है कि नई सीरीज को इन चार प्लेटफॉर्म पर तैयार किया जा रहा है; सब कॉम्पैक्ट, कॉम्पैक्ट, स्मॉल यूटिलिटी और लार्ज यूटिलिटी ट्रैक्टर जिससे इन्हें मौजूदा श्रेणियों में पेश किया जाएगा. जिसमें 37 मॉडल अलग अलग हॉर्सपावर पॉइंट्स के साथ लॉन्च होंगे. महिंद्रा के नए के2 सीरीज़ ट्रैक्टर्स को अमेरिका, जापान और दक्षिण-पूर्व एशिया के बाजारों में निर्यात किया जाएगा. अभी, जहीराबाद से लगभग 65 प्रतिशत ट्रैक्टरों का वैश्विक स्तर पर निर्यात किया जा रहा है. महिंद्रा एंड महिंद्रा ने अं तक जहीराबाद में रु 1,087 करोड़ का निवेश किया है. इसमें कुल कर्मचारियों की संख्या 1,500 है और सालाना उत्पादन क्षमता एक लाख ट्रैक्टर की है.
0 Comments

आप जिसमें इंटरेस्टेड हो

नाइ कार मॉडल्स

Be the first one to comment
Thanks for the comments.