भारत में नई बाइक और कारें

पिछले साल लॉन्च के बाद से मारुति एस-प्रेसो ने दर्ज की बढ़िया बिक्री

भारत की सबसे बड़ी कार कंपनी की इस मिनी-एसयूवी की बिक्री हर महीने लगातार 10,000 का आंकड़ा पार कर रही है.

expand फोटो देखें
भारतीय कार बाजार की कुल बिक्री में केवल हैचबैक्स की ही आधी हिस्सेदारी है.

मारुति सुजुकी भारत की सबसे ज्यादा कारें बेचने वाली कंपनी है और यह काफी लंबे समय से चल रहा है. इतना ही नहीं हाल ही में संपन्न हुए वित्तीय वर्ष में देश में सबसे ज्यादा बिकने वाली 7 कारें मारुति सुजुकी की थीं. इसका एक अच्छा हिस्सा ऑल्टो और हाल ही में लॉन्च हुई एस-प्रेसो जैसी एंट्री लेवल कारों से आया है. जबकि ऑल्टो बहुत लंबे समय से भारत की सबसे अधिक बिकने वाली कारों में से एक रही है, पिछले साल के अंत में लॉन्च होने के बाद से एस-प्रेसो ने भी बाज़ार में झंडा गाड़ दिया है.

ov98s7d

आने वाले दिनों में सस्ती कारों की बढ़ती मांग को देखते हुए एस-प्रेसो की बिक्री और बढ़ने की उम्मीद है.

मार्च के महीने में, हालांकि लॉकडाउन के चलते आख़िरी 10 दिनों में देश में गाड़ियां नहीं बिक पाईं, उसके बावजूद मारुति सुजुकी ने इन दोनों कारों की लगभग 16,000 इकाइयों को बेचने में कामयाबी हासिल की. मासिक बिक्री की बात करें तो बाज़ार में पिछले साल हुए लॉन्च के बाद से ही एस-प्रेसो लगातार 10,000 का आंकड़ा पर कर रही है. साथ ही भविष्य के संभावित रुझानों को देखते हुए जहां लोग सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए सस्ती कारें खरीदना चाहेंगे इन दोनो छोटी कारों की मांग और भी बढ़ने की उम्मीद है.

यह भी पढ़ें: कोरोनावायरस लॉकडाउनः मारुति सुज़ुकी ने 5,000 बुकिंग्स ऑनलाइन हासिल कीं

0 Comments

मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड के कार्यकारी निदेशक, मार्केटिंग और सेल्स, शशांक श्रीवास्तव ने कारएंडबाइक के ऑनलाइन शो फ्रीव्हीलिंग पर कहा, "यह बात सही है कि मांग बड़ी कारों से छोटी कारों की तरफ जा रही है. यहां तक ​​कि हमारे आंतरिक सर्वेक्षण और ग्राहकों से डीलरों की बातचीत में भी यह बात साफ निकल के आ रही है." ऑल्टो और एस-प्रेसो के अलावा कुछ अन्य सस्ती छोटी कारें जो मारुति सुजुकी घरेलू बाजार में एरिना चैनल के माध्यम से बेचती है, उनमें सेलेरियो, वैगनआर और स्विफ्ट शामिल हैं. इग्निस और बलेनो जैसे प्रीमियम हैचबैक नेक्सा शोरूम में बेची जाती हैं.

लेटेस्ट न्यूज़