carandbike logo

मारुति सुज़ुकी सिआज़ नए 1.5-लीटर डीजल इंजन में लॉन्च, शुरुआती कीमत ₹ 9.97 लाख

language dropdown

नई सिआज़ और नई अर्टिगा में 1.5-लीटर K15 पेट्रोल इंजन की सफलता के बाद नई सिआज़ के साथ 1.5-लीटर DDiS 225 डीजल इंजन उपलब्ध कराया है.

नई सिआज़ के साथ 1.5-लीटर DDiS 225 डीजल इंजन उपलब्ध कराया है expand फोटो देखें
नई सिआज़ के साथ 1.5-लीटर DDiS 225 डीजल इंजन उपलब्ध कराया है

मारुति सुज़ुकी ने नई सिआज़ और बिल्कुल नई अर्टिगा में 1.5-लीटर K15 पेट्रोल इंजन की सफलता को देखते हुए नई सिआज़ के साथ 1.5-लीटर DDiS 225 डीजल इंजन उपलब्ध कराया है. इसके साथ ही कंपनी ने इस कार को पूरी तरह बड़े 1.5-लीटर इंजन से लैस किया है. कंपनी द्वारा इनहाउस तैयार किया गया ये इंजन बेहतर पावर और कम स्पीड पर भी ज़्यादा टॉर्क उपलब्ध कराता है. नए डीजल इंजन के साथ मारुति सुज़ुकी सिआज़ की दिल्ली में शुरुआती एक्सशोरूम कीमत 9.97 लाख रुपए है जो कार के टॉप मॉडल के लिए 11.37 लाख रुपए तक जाती है. कार में लगा डीजल इंजन 94 बीएचपी पावर और 225 एनएम टॉर्क जनरेट करता है, कंपनी का दावा है कि इसका माइलेज 26.82 किमी/लीटर है.

blssvqrg

 ये इंजन बेहतर पावर और कम स्पीड पर भी ज़्यादा टॉर्क उपलब्ध कराता है

मारुति सुज़ुकी के मैनेजिंग डायरेक्टर और CEO केनिचि अकुयावा ने कहा कि, “मारुति सुज़ुकी ने भारतीय ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री को हर बार अपने नए उत्पादों के साथ बदलकर रख दिया है. इसी राह में अगला कदम बिल्कुल नया एल्युमीनियम 1.5-लीटर DDiS 225 डीजल इंजन है. इस इंजन को बेहतर प्रदर्शन के साथ बेहतरीन माइलेज के हिसाब से बनाया गया है. हमारे जवान ग्राहकों के परफॉर्मेंस उत्पाद उपलब्ध कराने के हमारे वादे की ओर इशारा यह इंजन करता है. हमें विश्वास है कि यह ना सिर्फ हमारे कार पोर्टफोलियो में इज़ाफा करेगा, बल्की कारों की पॉपुलारिटी को भी बढ़ाएगा.”

ये भी पढ़ें : मारुति सुज़ुकी ने सबसे ज़्यादा बिकने वाली तीन कारों पर बढ़ाया डीलर मार्जिन : रिपोर्ट

0 Comments

नई मारुति सुज़ुकी सिआज़ में लगा डीजल इंजन हाई एफिशिएंट टर्बो चार्जर से लैस है जो हायर लो-एंड टॉर्क जनरेट करता है और कार को आसानी से तेज़ गति में लाया जा सकता है. कंपनी ने नई सिआज़ में हाल में डिज़ाइन किया 6-स्पीड मैन्युअ ट्रांसमिशन दिया है जो नई डीजल पावरट्रेन के लिए बनाया गया है. कार के रिवर्स गियर की जगह बदल दी गई है और अब यह पहले गियर के बाद दिया गया है जिससे संकरी पाकिंग करते वक्त गियरिंग में हाथ का कम उपयोग हो.

आप जिसमें इंटरेस्टेड हो

Be the first one to comment
Thanks for the comments.