भारत में नई बाइक और कारें

MG ग्लॉस्टर रिव्यूः जानें कितनी खास है भारत में कंपनी की सबसे महंगी SUV

MG Gloster Review: ग्लॉस्टर बड़ी है, आकर्षक है और दमदार मौजूदगी दर्ज करती है जिसे अक्टूबर के मध्य में लॉन्च किया जाएगा. जानें कितनी खास है ग्लॉस्टर?

MG Gloster Review: MG अक्टूबर के मध्य में कहीं ग्लॉस्टर लॉन्च करने वाली है expand फोटो देखें
MG Gloster Review: MG अक्टूबर के मध्य में कहीं ग्लॉस्टर लॉन्च करने वाली है

मौजूदा समय में ऑटो सैक्टर की चुनौतियों से अलग SUV के शौकीन लोगों के लिए ये बहुत अच्छा समय है जब हर सेगमेंट में नए-नए मॉडल लॉन्च किए जा रहे हैं. और SUV की बात करें तो MG मोटर भारत में बिल्कुल नई और सबसे महंगी SUV MG ग्लॉस्टर लॉन्च करने वाली है. ग्लॉस्टर बड़ी है, आकर्षक है और दमदार मौजूदगी दर्ज करती है जिसे MG अक्टूबर के मध्य में कहीं लॉन्च करने वाली है. इस SUV के लिए बुकिंग्स शुरू कर दी गई है और ग्लॉस्टर का मुकाबला हमारे बाज़ार में तगड़ा होने वाला है. ये एक बड़ी SUV है जिसमें कोई दोराय नहीं है, तो चलिए शुरू करते हैं.

9td3jocg

डिज़ाइन और डायमेंशन

आकार में ये SUV 5 मीटर है, इसकी चौड़ाई लगभग 2 मीटर है और कद भी 2 मीटर है जिससे ग्लॉस्टर बहुत बड़ी दिखती है. SUV का व्हीलबेस करीब 3 मीटर है जिसका मतलब है कि इसकी तीसरी रो में बैठे यात्रियों को भी खूब सारी जगह मिलेगी. लेकिन, इसकी बात हम बाद में करेंगे. सबसे पहले इसकी डिज़ाइन के बारे में बात करते हैं. ये दिखने में टिपिकल SUV है जिसे आकर्षक बनाने का काम 3-स्लेट वाली क्रोम से घिरी ग्रिल करती है. इसका हैडलाइट कलस्टर पतले आकार का है और फॉग लैंप्स बंपर के ठीक नीचे लगे हैं जो पैने लुक वाली क्रोम हाउसिंग के साथ आते हैं. SUV के अगले हिस्से में क्रोम स्किड प्लेट दी गई है जो आपको अमेरिका में चलाई जाने वाली SUV की याद दिलाती है.

bphgrnhcसिर्फ बाहरी हिस्से में ही आपको 8 MG बैज मिलेंगे

ग्लॉस्टर के चारों ओर क्रोम बैज लगाए गए हैं और अगर हम इन्हें गिनें तो सिर्फ बाहरी हिस्से में ही आपको 8 बैज मिलेंगे. इसमें 4 पिछले हिस्से में लगाए गए हैं, दो बैज फैंडर पर लगे हैं और इसके अगले और पिछले हिस्से में MG लोगो दिया गया है. प्रोफाइल की बात करें तो SUV की रूपरेखा चौकोर है और खिड़की पर क्रोम स्ट्राइप के अलावा ब्रिड डायनामिक बैजिंग दी गई है जो सिर्फ MG की दमदार कारों के साथ दी जाती है. ग्लॉस्टर की खिड़की और दरवाज़े आकार में बड़े हैं और SUV के अलॉय को बेहतर रूप दिया गया है. लेकिन हमें लगता है कि आकार के हिसाब से व्हील को बड़ा होना चाहिए था. ग्लॉस्टर को 19-इंच के पहिये दिए गए हैं जिसकी जगह अगर कंपनी 20 या 21-इंच के व्हील्स देती तो अच्छा होता. हो सकता है कि लॉन्च के समय ग्लॉस्टर के साथ MG बड़े आकार के व्हील विकल्प के तौर पर उपलब्ध कराए.

6csvcprgग्लॉस्टर की कुल डिज़ाइन हैक्टर या हैक्टर प्लस जैसी जटिल नहीं है
पिछले हिस्से को देखते ही सबसे पहले आपका ध्यान खींचेगी बड़े अक्षरों में लिखा ग्लॉस्टर का नाम और क्रोम टिप वाले क्वाड एग्ज़्हॉस्ट हैं. इनके अलावा बाकी सब सामान्य नज़र आता है. ग्लॉस्टर की कुल डिज़ाइन हैक्टर या हैक्टर प्लस जैसी जटिल नहीं है, और MG ग्लॉस्टर के साथ सामान्य डिज़ाइन देना चाहती है.

ये भी पढ़ें : MG ग्लॉस्टर SUV से आधिकारिक रूप से हटा पर्दा, अक्टूबर 2020 में होगी लॉन्च

इंजन का ब्यौरा

r2hg5alc2.0-लीटर ट्विन टर्बो डीजल इंजन

हमने ग्लॉस्टर का जो मॉडल चलाकर देखा है वो 2.0-लीटर ट्विन टर्बो डीजल इंजन के साथ आता है. जी हां, ग्लॉस्टर के साथ दो टर्बो दिए गए हैं. ये इंजन 215 बीएचपी पावर और दमदार 480 एनएम पीक टॉर्क पैदा करने की क्षमता रखता है. SUV के साथ 8-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन दिया गया है जो सामान्य रूप से मिलेगा, इसके साथ ग्लॉस्टर को 4 बाय 4 सिस्टम और 7 ड्राइविंग मोड्स के साथ बाज़ार में लाया जाएगा. लेकिन अभी हम सड़क पर ही इसे चलाकर देख रहे हैं और इसकी ऑफ-रोडिंग कभी और करेंगे.

Newsbeep
m8u6mbpkSUV को 7 ड्राइविंग मोड्स दिए गए हैं जिनमें ऑटो, ईको, रॉक, स्नो, सैंड, मड और स्पोर्ट आते हैं

ग्लॉस्टर का इंजन इतना टॉर्क पैदा करता है कि मुकाबले में फोर्ड एंडेवर, टोयोटा फॉर्च्यूनर और महिंद्रा अल्तुरस जी4 इससे पीछे छूट गई हैं. SUV को 7 ड्राइविंग मोड्स दिए गए हैं जिनमें ऑटो, ईको, रॉक, स्नो, सैंड, मड और स्पोर्ट आते हैं. हमने इसके ऑफ-रोड मोड्स की जांच फिलहाल नहीं की है, लेकिन जब आप ऑटो, ईको और स्पोर्ट मोड्स का चुनाव करते हैं तो इंजन की क्षमता मामूली रूप से बदलती है.

ड्राइविंग डायनामिक्स

rlebd2cs

इस कार का भार आराम से 200 किग्रा से ज़्यादा होगा जिसमें 2.0-लीटर ट्विन टर्बो इंजन लगा है ऐसे में ग्लॉस्टर की क्षमता काफी बढ़ी है और 1700 आरपीएम से ही ये दमदार प्रदर्शन करने लगती है. SUV काफी आसानी से रफ्तार पकड़ लेती है और इसमें लगे 8-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन को बहुत अच्छे तरीके से जमाया गया है जिससे हर समय आपको ग्लॉस्टर दमदार अनुभव कराएगी. टर्बो में कुछ रुकावट आप महसूस कर सकते हैं, लेकिन ये आपको परेशान करने वाला नहीं होगा. कुल मिलाकर ग्लॉस्टर को चलान एक मज़ेदार अनुभव होगा और इसके इंजन की आवाज़ आपको केबिन में बहुत कम सुनाई पड़ेगी.

24uskh9oड्राइवर सीट पर बैठे हैं तो आपको विंडस्क्रीन के आगे बहुत अच्छा दिखाई देगा

ग्लॉस्टर की राइड क्वालिटी बेहतरीन है और भारतीय सड़कों के हिसाब से SUV के सस्पेंशन बहुत अच्छी तरह काम करते हैं. लेकिन तीसरी पंक्ति पर बैठे यात्रियों को थेड़ा उछाल महसूस होगा. ड्राइवर सीट पर बैठे हैं तो आपको विंडस्क्रीन के आगे बहुत अच्छा दिखाई देगा और लंबी कद-काठी वाला वाहल चलाने का ऐहसास होगा. स्टीयरिंग की बात करें तो रफ्तार पकड़ने तक ये बहुत अच्छी पकड़ बनाए रखता है और इसके बाद बहुत सुचारू रूप से काम करने लगता है.

ये भी पढ़ें : एमजी मोटर ने जल्द आने वाली गलॉस्टर एसयूवी की बुकिंग शुरु की

ausgsbicग्लॉस्टर में बॉडी रोल भी उचित मात्रा में दिया गया है

इस आकार की SUV के लिए जगह बदलना थोड़ा मुश्किल होता है और यहां हमें इस काम में थोड़ दिक्कत आई है. लेकिन, ये तीखे मोड़ पर तेज़ी से चलाने के लिए बनाई भी नहीं गई है. ग्लॉस्टर में बॉडी रोल भी उचित मात्रा में दिया गया है जो वाकई समझ में आता है और ब्रेकिंग के मामले में भी SUV सड़क पर दमदार पकड़ रखती है और तेज़ी से ब्रेक्स लगते हैं जो कि अच्छी बात है.

इंटीरियर और स्पेस

3k3qg28gSUV की तीसरी पंक्ति भी काफी आरामदायक है लेकिन शहरों में छोटी दूरी तय करने के हिसाब से

बैठक के मामले में MG ग्लॉस्टर बीच की पंक्ति में कैप्टन सीट्स के साथ आती है जिसका मतलब है इस SUV में 6 लोग बैठ सकते हैं. बीच की पंक्ति बहुत आरामदायक है और जिसमें यात्रियों को बेहतर हेडरूम और घुटनो के लिए जगह मिलती है. इसके बाद SUV की तीसरी पंक्ति भी काफी आरामदायक है लेकिन शहरों में छोटी दूरी तय करने के हिसाब से. सामान्य कद के युवाओं के हिसाब से ग्लॉस्टर में पर्याप्त जगह और हेडरूम मिलता है. घुटनों के लिए और जगह दी जा सकती थी, लेकिन हम इसकी शिकायत भी नहीं कर रहे.

grrkjqf8टचस्क्रीन भी आपको बीएमडब्ल्यू की याद दिलाएगा

MG ग्लॉस्टर का केबिन देखते ही आपका ध्यान डैशबोर्ड की डिज़ाइन पर जाएगा जो जर्मनी की निर्माता द्वारा बनाई SUV से प्रेरित नज़र आया है. हमारा मतलब है कि डैशबोर्ड पर रोटरी नॉब, एसी वेंट्स, क्लाइमेट कंट्रोल के लिए कंट्रोल्स, यहां तक कि टचस्क्रीन भी आपको बीएमडब्ल्यू की याद दिलाएगा.

फीचर्स

जैसा कि सबसे महंगी SUV में अमूमन देखा जाता है, ग्लॉस्टर भी भरपूर फीचर्स के साथ आई है. SUV को महंगे टैन लैदर वाली अपहोल्स्ट्री दी गई है जो प्रिमियम इंटीरियर और यॉट स्टाइल के गियर-नॉब के साथ आती है. इसके केबिन में इस्तेमाल किए गए मटेरियल को देखकर ही आपको समझ आ जाएगा कि ये कितनी प्रिमियम है. हालांकि, वायरलेस चार्जिंग ट्रे और रोटरी नॉॅब पर आपको कुछ प्लास्टि देखने को मिलेगा जिसे बेहतर बनाया जा सकता था.

stporlsgसबसे आकर्षक इसमें 12.3-इंच का टचस्क्रीन पैनल है

ग्लॉस्टर के डैशबोर्ड की साफ-सुथरा डिज़ाइन दिया गया है और सबसे आकर्षक इसमें 12.3-इंच का टचस्क्रीन पैनल है खड़े की जगह आड़े आकार में लगाया गया है जैसा कि हैक्टर और हैक्टर प्लस SUV में देखा गया है. इसके अलावा आपको 8-इंच का डिजिटल इंस्ट्रुमेंट कंसोल मिलेगा जो स्पीड और रेव्स के साथ ऐनेलॉग काउंटर्स के साथ आता है. ग्लॉस्टर के साथ मिले बाफी फीचर्स में हीटेड सीट्स शामिल हैं जो इलैक्ट्रिक तौर पर अडजस्ट की जा सकती हैं, इसके अलावा तीन-ज़ोन क्लाइमेट कंट्रोल, एयर-प्यूरिफायर, वायरलेस चार्जिंग, बड़े आकार की पैनोरमिक सनरूफ और सैगमेंट में पहली दी गई 64 रंगों वाली एंबिएंट लाइटिंग भी गई है जो महंगी कारों के साथ देखने को मिलती है.

ric0nnscSUV के साथ वेरिएंट के हिसाब से अलग-अलग सेफ्टी फीचर्स दिए गए हैं

ग्लॉस्टर के साथ 6 एयरबैग्स, एंटीलॉक ब्रेक्स, हिल स्टार्ट और हिल डीसेंट कंट्रोल, इलैक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी प्रोग्राम, ट्रैक्शन कंट्रोल, 360 डिग्री कैमरा और आईसोफिक्स चाइल्ड सीट माउंट जैसे फीचर्स दिए गए हैं. SUV के साथ वेरिएंट के हिसाब से अलग-अलग सेफ्टी फीचर्स दिए गए हैं और कंपनी ने फिलहाल इसकी जानकारी का खुलासा नहीं किया है. MG ग्लॉस्टर एक कनेक्टेड SUV है जिसे MG की आईस्मार्ट तकनीक दी गई है और MG का कहना है कि ग्लॉस्टर के साथ करीब 70 कनेक्टेड कार फीचर्स के साथ वॉइस कमांड्स दी गई हैं.

एडवांस ड्राइवर असिस्टेंस सिस्टम (ADAS)

e580t7i8हमने सभी ऑटोनोमस फंक्शन का इस्तेमाल करके देखा है

मुकाबले के हिसाब से यहां जो ग्लॉस्टर को अलग जगह देने वाली सबसे अच्छी चीज़ है वो आधुनिक ड्राइवर असिस्टेंस सिस्टम या एडीएएस है. कहने का मतलब ग्लॉस्ट के साथ ऑटो पार्क असिस्ट और अडैप्टिव क्रूज़ कंट्रोल के साथ लेन डिपार्चर वॉर्निंग, ऑटो इमरजेंसी ब्रेकिंग, फॉर्वर्ड कोलिजन वॉर्निंग और ब्लाइंड स्पॉट डिटेक्शन जैसे फीचर्स दिए गए हैं. हमने सभी ऑटोनोमस फंक्शन का इस्तेमाल करके देखा है और ये ठीक वैसे ही काम करते मिले जैसा कि विज्ञापन में दिखाया गया है.

ये भी पढ़ें : फोर्ड एंडेवर का 2020 स्पोर्ट वेरिएंट भारत में हुआ लॉन्च, कीमत ₹ 35.10 लाख

7k9vfoa4MG का कहना है कि ग्लॉस्टर के साथ करीब 70 कनेक्टेड कार फीचर्स के साथ वॉइस कमांड्स दी गई हैं

हमें चलाने के लिए जो टेस्ट मॉडल दिया गया वो ग्लॉस्टर का टॉप मॉडल है और इसे कई इंजन विकल्पों के साथ निचले वेरिएंट्स में भी लॉन्च किया जाएगा. हालांकि इसपर अबतक कोई पुख़्ता जानकारी नहीं मिल पाई है. MG का कहना है कि SUV को भारत में पार्ट-बाय-पार्ट असेंबल किया जाएगा जो सीकेडी यूनिट के मुकाबले काफी अलग है. इसके अलावा अगर बिक्री बढ़ती है जो MG इस SUV में ज़्यादातर घरेलू हिस्सों का उपयोग शुरू करने लगेगी. MG का लक्ष्य है कि लॉन्च के एक साल में 6,000 ग्लॉस्टर बिकें.

फैसला

g26q2vfsये खूब सारे फीचर्स और आराम यात्रा के लिए कई सारे विकल्पों के साथ आती है
0 Comments

MG ग्लॉस्टर के साथ खूब सारी चीज़ें आपको लुभाएंगी. ये आकार में बड़ी है, वाकई बहुत बड़ी है, इसका निर्माण दमदार क्वालिटी का है, ये खूब सारे फीचर्स और आराम यात्रा के लिए कई सारे विकल्पों के साथ आती है और इसे चलाना भी काफी मज़ेदार काम है. इस कार की कुल डिज़ाइन को और बेहतर बनाया जा सकता था जिसे लिए बहुत से रास्ते प्ररणा दे सकते थे. लेकिन बाकी सभी चीज़ों पर नज़र डालें तो ग्लॉस्टर एक अच्छी और दमदार फुल-साइज़ SUV की जगह लेती है. MG ने बताया है कि ग्लॉस्टर की अनुमानित कीमत रु 35 लाख से रु 40 लाख के बीच होगी, लेकिन बाकी कारों का इतिहास देखें तो ग्लॉस्टर की शुरुआती एक्सशोरूम कीमत भी रु 30 लाख के आस-पास हो सकती है. इस कीमत के साथ सबसे नज़दीकी मुकाबले टोयोटा फॉर्च्यूनर, फोर्ड एंडेवर और महिंद्रा अल्तुरस जी4 के साथ अधिक प्रिमियम SUV से भी मुकाबला करेगी.

आप जिसमें इंटरेस्टेड हो

Be the first one to comment
Thanks for the comments.