भारत में नई बाइक और कारें

कोरोना लॉकडाउनः विपरीत परिस्थिति में MG ने बिक्री में दर्ज की 10.32% बढ़ोतरी

MG मोटर इंडिया ने मार्च 2020 में कुल 1,518 यूनिट वाहन बेचे हैं जो फरवरी 2020 में हुई कंपनी की बिक्री के मुकाबले 10.32% की बढ़ोतरी दिखाता है.

फोटो देखें
जनवरी 2020 में MG मोटर इंडिया ने 3,130 यूनिट वाहन बेचे थे

MG मोटर इंडिया ने मार्च 2020 में कुल 1,518 यूनिट वाहन बेचे हैं जो फरवरी 2020 में हुई कंपनी की बिक्री के मुकाबले 10.32% की बढ़ोतरी दिखाता है. इसमें 116 यूनिट MG ZS EV और 1,402 यूनिट MG हैक्टर शामिल हैं. हैरानी की बात ये है कि कोरोना महामारी के चलते पूरे भारत में लॉकडाउन जारी है और इसी वजह से MG मोटर इंडिया को मिलने वाले पुर्ज़ों की सप्लाई में रुकावट और देरी हुई है, बावजूद इसके कंपनी की बिक्री में बढ़ोतरी दर्ज की गई है. पुर्ज़ों की सप्लाई में देरी का कारण कोरोना है क्योंकि फरवरी में ये महामारी चीन में तबाही मचा रही थी. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जनवरी 2020 में MG मोटर इंडिया ने 3,130 यूनिट वाहन बेचे थे. कोरोना से बचने के लिए देशभर में 23 मार्च से लॉकडाउन जारी किया गया है, इस स्थिति को अलग करके देखें तो कंपनी निश्चित ही बेहतर प्रदर्शन करती.

rfbpvi0gMG मोटर इंडिया ने 1,402 यूनिट MG हैक्टर बेची हैं

बिक्री में बढ़ोतरी पर बात करते हुए MG मोटर इंडिया के प्रेसिडेंट और मैनेजिंग डायरेक्टर राजीव चाबा ने कहा कि, “MG हैक्टर और MG ZS EV ने भारतीय बाज़ार में अपनी पहचान बना ली है. ग्लोबल सप्लाई चेन में देरी के बाद भी कंपनी ने अपने ग्राहकों सुविधा दी है. फरवरी में डिस्ट्रिब्यूशन के चलते हमारी बिक्री में कमी आई थी, वहीं इतने व्यापक लॉकडाउन और प्लांट में उत्पादन बंद होने के बाद भी मार्च 2020 में अपने बढ़ी हुई बिक्री देखी है. फिलहाल हमारा सबसे बड़ा मकसद हमारे कर्मचारियों और उनके परिवार के साथ पूरे समाज की देखभाल करना है.”

एमजी

एमजी कारें

ये भी पढ़ें : कोरोनावायरस लॉकडाउन: मार्च 2020 में मारुति सुज़ुकी ने बिक्री में दर्ज की भारी गिरावट

8qgrbjv4मार्च 2020 में कुल 1,518 यूनिट वाहन बेचे हैं, इसमें 116 यूनिट MG ZS EV शामिल हैं
0 Comments

लॉकडाउन लागू होने से पहले MG मोटर इंडिया ने ‘डिसइंफैक्ट एंड डिलिवर' प्रोग्राम शुरू किया था जिससे पुख़्ता तौर पर बिना किसी कीटाणू या वायरस के साथ ग्राहकों को वाहन सौंपा जाए. MG लॉकडाउन खत्म होने के बाद भी इस प्रक्रिया को जारी रखने वाली है. MG मोटर इंडिया के पास कोई BS4 स्टॉक नहीं है क्योंकि कंपनी ने उत्पादन की शुरुआत ही BS6 इंजन के साथ की है और गुजरात स्थित प्लांट बंद हो जाने से डीलरशिप पर BS6 वाहनों का स्टॉक भी बहुत कम बचा है.

कम्पेयर एमजी हेक्टर मौजूदा प्रतिद्वंदियों के साथ