carandbike logo

महिंद्रा द्वारा ग्राहक ना तलाश पाने की दशा में सैंगयांग मोटर रिसीवरशिप पर पहुंची

language dropdown

सैंगयांग को सिओल दिवालिया कोर्ट ने महिंद्रा द्वारा ग्राहक ना ढूंढ पाने की दशा में रिसीवरशिप पर ले लिया है. विस्तार से जानें क्या है पूरा मामला...

2020 में सैंगयांग का ऑपरेटिंग या कहें तो परिचालन नुकसान 449 बिलियन वॉन था expand फोटो देखें
2020 में सैंगयांग का ऑपरेटिंग या कहें तो परिचालन नुकसान 449 बिलियन वॉन था

सैंगयांग मोटर को सिओल दिवालिया कोर्ट ने महिंद्रा एंड महिंद्रा द्वारा ग्राहक ना ढूंढ पाने की दशा में कोर्ट रिसीवरशिप पर ले लिया है. भारतीय वाहन निर्माता महिंद्रा एंड महिंद्रा दक्षिण कोरिया की इस कंपनी में सबसे बड़ी स्टेकहोल्डर है. दिसंबर 2020 में सैंगयांग लोन चुकाने में असमर्थ हो गई थी और तब कंपनी ने रिसीवरशिप के लिए कोर्ट में आवेदन किया था. अब सैंगयांग को जून 2021 तक कोरियाई दिवालिया कोर्ट में पुनर्वास या कहें तो रिहैबिलिटेशन प्लान जमा करना होगा.

l2rpts3o2020 में कंपनी का रेवेन्यू भी 19 प्रतिशत गिरकर 3 ट्रिलियन वॉन रह गया था

सैंगयांग ने अपने बयान में कहा कि, “हम M&A के पूरा होते ही पनर्वास के जल्द समापन की प्रक्रिया को बढ़ावा दे रहे हैं, इसमें सिओल दिवालिया कोर्ट के परामर्श पर बहुत जल्दी में एक सलाहकार को नियुक्त किरना शामिल है.” 2020 में सैंगयांग का ऑपरेटिंग या कहें तो परिचालन नुकसान 449 बिलियन वॉन था जो करीब 402 मिलियन डॉलर के बराबर है. 2019 में कंपनी का यह नुकसान 282 बिलियन वॉन था. 2020 में कंपनी का रेवेन्यू भी 19 प्रतिशत गिरकर 3 ट्रिलियन वॉन रह गया था. इसके बाद कंपनी और भी गर्त में पहुंच गई जब वाहनों की बिक्री साल 2020 में 20 प्रतिशत गिर गई.

ये भी पढ़ें : महिंद्रा अगले तीन साल इलेक्ट्रिक वाहन व्यापार में निवेश करेगी ₹ 3,000 करोड़

4e10b9aभारतीय वाहन निर्माता की इस 74.65 प्रतिशत हिस्सेदारी इस कोरियाई कार कंपनी में है
0 Comments

पिछले महीने ही महिंद्रा एंड महिंद्रा ने सैंगयांग मोटर में अपनी हिस्सेदारी कम करने के लिए रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया ने मंज़ूरी ली थी. भारतीय वाहन निर्माता की इस 74.65 प्रतिशत हिस्सेदारी इस कोरियाई कार कंपनी में है और महिंद्रा पिछले साल से ही इस कंपनी में अपनी हिस्सेदारी को बेचने के लिए ग्राहक की तलाश कर रही है. साल 2010 में महिंद्रा ने सैंगयांग को खरीदा था और तब भी यह कंपनी दिवालिया होने की कगार पर थी. लेकिन अफसोस कि इसके बाद भी कोरियाई कंपनी की किस्मत बदल नहीं पाई.

आप जिसमें इंटरेस्टेड हो

Research on महिंद्रा Cars

  • Mahindra Bolero Grill
    Mahindra Bolero Grill
  • Mahindra Bolero X Sharped Bumper
    Mahindra Bolero X Sharped Bumper
  • Mahindra Thar
    Mahindra Thar
  • Mahindra Thar Without Roof
    Mahindra Thar Without Roof
  • Mahindra Thar With Roof
    Mahindra Thar With Roof
  • Scorpio Front Side Profile
    Scorpio Front Side Profile
  • Scorpio Front Profile
    Scorpio Front Profile
  • Scorpio Front Grille
    Scorpio Front Grille
  • Mahidra Bolero Camper Front View
    Mahidra Bolero Camper Front View
  • Mahidra Bolero Camper Side View
    Mahidra Bolero Camper Side View
  • Mahindra Supro Side Front
    Mahindra Supro Side Front
  • Mahindra Supro Front
    Mahindra Supro Front
  • Mahindra Supro Rear
    Mahindra Supro Rear
  • Mahindra Xuv300floating Roof Design
    Mahindra Xuv300floating Roof Design
  • Striking Led Drls
    Striking Led Drls
  • Xuv 300 Aggressivechrome Front Grill
    Xuv 300 Aggressivechrome Front Grill
  • New Design Sporty Metallic Grey Spoke Alloy Wheels
    New Design Sporty Metallic Grey Spoke Alloy Wheels
  • New Dynamic X Type Spare Wheel Cover
    New Dynamic X Type Spare Wheel Cover
  • New Muscular Piano Black Front Grille
    New Muscular Piano Black Front Grille
  • Mahindra Xylo Front 3 4th View
    Mahindra Xylo Front 3 4th View
  • Mahindra Xylo Front Profile
    Mahindra Xylo Front Profile
  • Mahindra Xylo Side
    Mahindra Xylo Side
  • Mahindra E2oplus Rear Side
    Mahindra E2oplus Rear Side
  • Mahindra E2oplus Rear
    Mahindra E2oplus Rear
  • Mahindra E2oplus Front View
    Mahindra E2oplus Front View
  • Kuv100 Nxt Front Side Profile 11
    Kuv100 Nxt Front Side Profile 11
  • Kuv100 Nxt Front Side Profile 1
    Kuv100 Nxt Front Side Profile 1
  • Kuv100 Nxt Front Side Profile 8
    Kuv100 Nxt Front Side Profile 8
Be the first one to comment
Thanks for the comments.