भारत में नई बाइक और कारें

टाटा मोटर्स ने अपने यात्री वाहन कारोबार में हिस्सेदारी बेचने की ख़बरों का खंडन किया

language dropdown

हाल की आई एक मीडिया रिपोर्ट से पता चला था है कि टाटा मोटर्स अपने यात्री वाहन कारोबार में 49 प्रतिशत हिस्सेदारी विदेशी कंपनी को बेचने की योजना बना रही है.

expand फोटो देखें
टाटा मोटर्स ने कारएंडबाइक से पुष्टि की है इन ख़बरों में कोई सच्चाई नहीं है.

टाटा मोटर्स ने अपने यात्री वाहन कारोबार की 49 प्रतिशत हिस्सेदारी विदेशी कंपनी को बेचने की योजना के बारे में हालिया मीडिया रिपोर्ट का खंडन किया है और कहा है कि इसमें कोई सच्चाई नहीं है. कंपनी के मुताबिक रिपोर्ट "बिना आधार और बिना किसी योग्यता के" है. अंग्रेज़ी अख़बार टाइम्स ऑफ इंडिया ने हाल ही में बताया कि टाटा मोटर्स अपने रु 9,417 करोड़ के यात्री वाहन कारोबार को एक सहायक कंपनी को सौंपने की योजना बना रही है और साथ ही वह यूरोपीय और पूर्वी एशियाई के कई वाहन निर्माताओं से 49 प्रतिशत तक हिस्सेदारी बेचने बातचीत कर रही है. हमारे पूछने पर टाटा मोटर्स ने कहा कि रिपोर्ट में "कुछ सच नहीं है और यह भ्रमित करती है".

e49t94r

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि टाटा मोटर्स कई चीनी कंपनियों के साथ भी बातचीत कर रही है

इस बात को दोहराते हुए कि कंपनी ने अपने यात्री कार व्यवसाय के विभाजन के संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया है, टाटा मोटर्स के एक प्रवक्ता ने कहा, "जैसा कि आप जानते हैं, मार्च 2020 में, टाटा मोटर्स ने सहायक कंपनियों को अपने यात्री वाहन कारोबार देने के इरादे की घोषणा की थी. यह कारों, आर्किटेक्चर, इंजन और नई तकनीक हासिल करने की दिशा में हमारा पहला कदम है. हम संभावित साझेदारी के अवसरों की पहचान के लिए कई कंपनियों के साथ बातचीत कर रहे हैं."

यह भी पढ़ें: टाटा मोटर्स को साल की पहली तिमाही में हुआ घाटा, कोरोना महामारी बड़ी वजह

0 Comments

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि टाटा मोटर्स गीली, चांगन और चेरी जैसे चीनी कंपनियों के साथ बातचीत कर रही है, लेकिन भारत और चीन के बीच बिगड़ते रिश्ते इस सौदे को प्रभावित कर सकते हैं. मार्च 2020 में टाटा मोटर्स ने अपने यात्री वाहन और इलेक्ट्रिक वाहन व्यवसाय को विलय कर दिया था, और कहा था कि यह यात्री वाहन व्यापार को मजबूत करेगा.

लेटेस्ट न्यूज़

Be the first one to comment
Thanks for the comments.