भारत में नई बाइक और कारें

2020 ह्यून्दे i20 रिव्यूः हमने चलाकर देखे कार के पेट्रोल और डीज़ल मॉडल

language dropdown

प्रिमियम हैचबैक क्या आजकल पसंद भी की जाती हैं? मैंने यह सवाल इसीलिए पूछा है क्योंकि सबकॉम्पैक्ट एसयूवी का दौर चल रहा है जो बहुत कुछ ऑफर कर रही हैं.

अल्ट्रोज़ के बाद सिर्फ नई जनरेशन i20 है जिसे सेगमेंट में डीजल इंजन के साथ लॉन्च किया गया है expand फोटो देखें
अल्ट्रोज़ के बाद सिर्फ नई जनरेशन i20 है जिसे सेगमेंट में डीजल इंजन के साथ लॉन्च किया गया है

प्रिमियम हैचबैक क्या आजकल पसंद भी की जाती हैं? मैंने यह सवाल इसीलिए पूछा है क्योंकि सबकॉम्पैक्ट एसयूवी का दौर चल रहा है जो बहुत कुछ ऑफर कर रही हैं. लेकिन यहां एक खास किस्म के ग्राहक हैं जिन्हें प्रिमियम हैचबैक पसंद आती है, वहीं एसयूवी पसंद करने वाले ग्राहकों की पसंद बहुमुखी होती है. सबकॉम्पैक्ट एसयूवी खरीदना दरअसल एसयूवी की चाह का समझौता कहा जा सकता है, क्योंकि यहां सबसे बड़ा मुद्दा कीमत का होता है.

s4f3edkcयह ह्यून्दे की इस सेगमेंट में सबसे ज़्यादा बिकने वाली कार है

i20 प्रिमियम हैचबैक इस सेगमेंट के शीर्श पर है ऐसा कहा जा सकता है और यह पहले से ह्यून्दे की इस सेगमेंट में सबसे ज़्यादा बिकने वाली कार है, इसके अलावा कार के साथ एक और फायदा है जिसमें अल्ट्रोज़ के बाद सिर्फ नई जनरेशन i20 है जिसे सेगमेंट में डीजल इंजन के साथ लॉन्च किया गया है. याद रहे मारुति सुज़ुकी बलेनो, होंडा जैज़, फोक्सवैगन पोलो और टोयोटा ग्लान्ज़ा को सिर्फ पेट्रोल इंजन के साथ पेश किया गया है. तो हम आपको बता रहे हैं भीड़-भाड़ भरे इस सेगमेंट में नई i20 अपनी जगह कैसे और कहा बना रही है.

fj0of5jo

एक्सटीरियर डिज़ाइन

पिछले मॉडल से तुलना करें तो नई i20 आकार में थोड़ी बड़ी है, लेकिन जब आप कार के प्रपोर्शन को देखेंगे तो इसे बहुत अलग पाएंगे. कार की लंबाई को 10 मिमी बढ़ाकर 3995 मिमी कर दिया गया है, 41 मिमी चौड़ी होकर यह कार कद के मामले में पहले जैसी ही है. दिखने में पहले के मुकाबले आपको यह कार छोटे आकार की लगेगी, लेकिन जैसा हमने पहले बताया कि यह इसके प्रपोर्शन के कारण हुआ है. कार के अगले हिस्से में बड़े आकार की ग्रिल लगाई गई है जो आज के ज़माने की है और अच्छी दिख रही है. कार की स्टाइल तीखी है और कंपनी इसे कई पैटर्न में उपलब्ध करा रही है जो इंजन के प्रकार पर निर्भर करती है. 1.2-लीटर पेट्रोल इंजन के साथ पहले जैसा पैटर्न मिलेगा, लेकिन यह पूरी तरह काले रंग वाला है और इसपर क्रोम का इस्तेमाल नहीं किया गया है जो अच्छी बात है.

jrlkh3o8कार का पिछला हिस्सा सबसे ज़्यादा ध्यान खींचने वाला है जिसे ज़ैड आकार के चिन्ह वाला टेललैंप दिए गए हैं

कार के प्रोफाइल को देखें तो यह ज़मीन से काफी सटा हुआ लग रहा है और इसमें क्रोम की एक पट्टी भी है जो कार के चारो ओर घूमती दिखाई देती है. कार का पिछला हिस्सा सबसे ज़्यादा ध्यान खींचने वाला है जिसे ज़ैड आकार के चिन्ह वाला टेललैंप दिए गए हैं. इसमें अल्ट्रोज़ की तर्ज पर चटक काले रंग के एलिमेंट दिखाई दे रहे हैं, कुल मिलाकर कार का पिछला हिस्सा काफी आकर्षक और सुंदर दिखाई देता है. नई जनरेशन i20 के साथ ह्यून्दे इंडिया ने 16-इंच के अलॉय व्हील्स दिए हैं, लेकिन यहां कंपनी थोड़े बड़े आकार के अलॉय दे सकती थी जो कार का पूरा हुलिया बदलकर रख देते हैं.

jrgagsco

इंटीरियर

कार का केबिन नाज़ुक और मॉडर्न है. कार का डैशबोर्ड साफ-सुथरा है, लेकिन जहां एसी वेंट्स लगाए गए हैं वहां हमें थोड़ी दिक्कत है. बाहरी हिस्से का पैटर्न कार के केबिन में भी दिखाई देता है और डैशबोर्ड से गुज़रता यह पैटर्न वाकई यूरोपीय कारों जैसे आकर्षक लुक देता है. लेकिन भारत में बहुत धूल उड़ती है और वो सारी इस पैटर्न पर जाकर जमेगी? यहां इसकी सफाई बहुत उलझन भरा काम होगा. इसके अलावा कार का केबिन बहुत अच्छे से सजाया गया है. नई i20 में क्रेटा से लिया गया स्टीयरिंग व्हील लगाया गया है जो कि ना सिर्फ अच्छी, बल्कि किफायती भी है और खासतौर पर i20 जैसी कारों को बहुत जंच रही है. कार का डिजिटल इंस्ट्रुमेंट क्लस्टर भी काफी अच्छा दिख रहा है और इसमें कुछ बीएमडब्ल्यू वाली झलक भी दिख रही है, लेकिन कार के ग्राफिक्स और कुल पैकेज बहुत लुभाता है.

Newsbeep
gc03g5eह्यून्दे की मानें तो पिछली सीट्स का लेगरूम 80 मिमी तक बढ़ाया गया है

एक रंग वाले वेरिएंट में आपके काली सीट्स के साथ तांबे के रंग की तुरपाई और एसी वेंट्स पर भी इसी रंग का काम दिखेगा, वहीं दो रंगों वाली i20 में आपको सीट्स पर लाल तुरपाई और एसी वेंट्स के अलावा केबिन में कुछ और जगहों पर भी यही लाल रंग दिखाई देगा. निश्चित रूप से ग्राहकों को जो सबसे ज़्यादा अपनी ओर खींचेगा वो कार की सनरूफ है, यह सनरूफ कार के सिर्फ टॉप मॉडल के साथ उपलब्ध कराई गई है. कार का व्हीलबेस भी 10 मिमी बढ़ाया गया है ऐसे में कार का पिछला हिस्सा ज़्यादा जगह वाला हो गया है. ह्यून्दे की मानें तो पिछली सीट्स का लेगरूम 80 मिमी तक बढ़ाया गया है और यह बात सही भी लग रही है क्योंकि पिछली सीट पर बैठने वालों को अब लेगरूम, नी रूम और कंधों के लिए पर्याप्त जगह मिली है. कार के पिछले हिस्से में एसी वेंट्स दिए गए हैं और यूएसभी चार्जिंग पोर्ट भी लगाया गया है.

ये भी पढ़ें : ह्यून्दे ग्रैंड i10 निऑस 1.0 टर्बो जीडीआई का रिव्यू: छोटी मगर मज़ेदार

mupn0748

फीचर्स

कार के सबसे अच्छे फीचर्स में 1.25-इंच टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम आता है जो ह्यून्दे क्रेटा जैसा ही है ओर काफी अच्छे तरीके से काम करता है. नई i20 को 7-स्पीकर बोस साउंड सिस्टम दिया गया है जो कार को और भी ज़्यादा प्रिमियम बनाता है. कार के साथ आपको वूफर जैसा अनुभव भी मिलने वाला है. बेशक इंफोटेनमेंट सिस्टम के साथ एप्पल कारप्ले और एंड्रॉइड ऑटो के अलावा ह्यून्दे की ब्लूलिंक तकनीक भी दी जा रही है. जी हां, ह्यून्दे i20 अब एक कनेक्टेड कार है. आपको कार के लिए जिओफेंस मिलेगा, आप इसे रिमोट से अनलॉक कर सकते हैं, आप कार को चालू कर सकते हैं, आप रिमोट से एसी चालू कर सकते हैं, आप स्मार्ट एसओएस सुविधा का इस्तेमाल भी कर सकते हैं, और यह सब एक बटन के ज़रिए किया जा सकता है जो कि सेगमेंट में पहली बार दिया जा रहा है.

k2h7b6ggयह भरपूर फीचर्स के साथ आई है खासतौर पर टॉप मॉडल में

कार में आपको टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम और केबिन में कई सारे चार्जर मिलेंगे जनमें से एक वायरलेस चार्जर भी है. तो हां, यह भरपूर फीचर्स के साथ आई है खासतौर पर टॉप मॉडल में. कार के साथ प्यूरिफायर भी दिया जा रहा है जो कार के बीच में यात्रियों के कप होल्डर्स की जगह लेगा, लेकिन यहां आपको ताज़ी हवा का विकल्प मिल रहा है जो आज के दौर में कुश शहरों की ज़रूरतों में शामिल हो चुका है. यह आपका खर्च ज़रूर बढ़ाएगा, लेकिन जिन शहरों में प्रदूषण बहुत ज़्यादा है, वहां इसके एयर फिल्टर को 6 महीने में एक बार बदलने की आवश्यक्ता होती है

6efsbtuo

चलने में कैसी है कार

हमने नई जनरेशन ह्यून्दे i20 के 1.5-लीटर डीजल और 1-लीटर टर्बो पेट्रोल मॉडल चलाकर देखे हैं. शुरुआत करते हैं डीजल इंजन से. 1.5-लीटर डीजल इंजन को बीएस6 अवतार में पेश करना ह्यून्दे का अच्छा कदम कहा जाना चाहिए. यह इंजन काफी साफ-सुथर और दमदार इंजन है. यह स्पोर्टी अनुभव देता है और परफॉर्मेंस में आपको जरूर संतुष्ट करेगा. कार के साथ 99 बीएचपी पावर मिलेगा और इसमें टर्बो की कोई रुकावट देखने को नहीं मिलती, इसके अलावा जब आप कार के गियर बदल रहे होते हैं तो कोई झटका भी महसूस नहीं होता है. लेकिन हमें जिस बात ने चौंकाया वह डीजल इंजन के साथ कोई ऑटोमैटिक विकल्प ना होना है, लेकिन क्यूं? कीमत इसकी बहुत बड़ी वजह हो सकती है. लेकिन किआ सॉनेट के साथ यह ट्रांसमिशन दिया जा रहा है, ऐसे में एक ही कंपनी की होने के नाते ह्यून्दे भी इस कार के डीजल मॉडल को ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन दे सकती थी. हालांकि ह्यून्दे डंके की चोट पर कह रही है कि डीजल सेगमेंट की यह सबसे ज़्यादा इंधन बचाने वाली कार है जो एक लीटर डीजल में 25 किमी तक चलाई जा सकती है जो इसके लिए बहुत बड़ा प्लस पॉइंट है.

h20s6ft1.0-लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन 118 बीएचपी ताकत पैदा करता है

अब बात करते हैं उस इंजन की जिसका आपको इंतज़ार है... 1.0-लीटर टर्बो पेट्रोल. हम यह इंजन ह्यून्दे वर्ना, वेन्यू में देख चुके हैं और अब यह i20 के साथ उपलब्ध कराया गया है. कार में लगा यह इंजन 118 बीएचपी ताकत पैदा करता है जिससे यह सेगमेंट की सबसे दमदार प्रिमियम हैचबैक भी बनती है. यह बिल्कुल निराश नहीं करती. कार का 1.0-लीटर टर्बो सिर्फ इंटटेलिजेंट मैन्युअल ट्रांसमिशन और 7-स्पीड डुअल क्लच के साथ पेश किया गया है. हमें जो मॉडल चलाने को मिला वह डीसीटी गियरबॉक्स वाला था. कम रफ्तार में यह आपको नाखुश कर सकता है, लेकिन मिड रेन्ज पर आपकी यह निराशा दूर हो जाती है, इसके अलावा कार के साथ स्पोर्ट मोड भी मिलता है और जैसे ही आप इसे ऑन करते हैं तब इस कार को चलाने का असली मज़ा शुरू होता है. लेकिन इस दमदार प्रदर्शन का एक नकारात्मक पहलू भी है जहां आपको मिलने वाले माइलेज का आंकड़ा 20 किमी/लीटर से कुछ ज़्यादा हो जाता है, हालांकि टर्बो इंजन के हिसाब से यह भी काफी आकर्षक आंकड़ा है.

6uo1ajd4

राइड और हैंडलिंग

ह्यून्दे ने कुछ साल पहले भारत में नई जनरेशन इलांट्रा लॉन्च की थी और तब से लेकर अब तब ह्यून्दे अपनी सभी कारों की राइड और हैंडलिंग पर बहुत ज़्याद ध्यान लगाने लगी है. i20 में भी यह काम बहुत बारीकी से किया गया है. कच्ची सड़कों पर नई जनरेशन कार को चलाना बहुत आसान हो गया है, कार काफी संतुलित बनी रहती है और केबिन में आपको कोई बात परेशान नहीं करती. कैसी भी सड़क आने पर नई i20 ऐसे चलती है मानो सड़क पर कोई अड़चन आई ही ना हो, लेकिन गहरे गड्ढों पर आपको सावधान रहना पड़ेगा. कार के स्टीयरिंग व्हील को और बेहतर बनाया जा सकता था, हालांकि कार की ब्रेकिंग शानदार तरीके से काम करती है और आप इसके ब्रेक्स पर काफी ज़्यादा विश्वास कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें : 2020 ह्यून्दे टूसॉन फेसलिफ्ट का रिव्यू

pkoljb08

सुरक्षा फीचर्स

यात्रियों की सुरक्षा के बारे में बात करें तो ह्यून्दे ने इस कार को ज़ोरदार फीचर्स दिए हैं. चूंकि कार का मुकाबला 5 स्टार सुरक्षा वाली कार टाटा अल्ट्रोज़ से हो रहा है, ऐसे में इसे मुकाबले के हिसाब से तैयार भी किया गया है. जहां फिलहाल इस कार का क्रैश टेस्ट नहीं किया गया है, वहीं ह्यून्दे का कहना है कि यह अबतक की सबसे सुरक्षत i20 है. कार में सामान्य रूप से दो एयरबैग्स, एबीएस के साथ ईबीडी और पिछले पार्किंग सेंसर्स जैसे फीचर्स दिए गए हैं. कार के टॉप मॉडल ऐस्टा ऑप्शनल के साथ 6 एयरबैग्स दिए गए हैं जिनमें साइड और कर्टन एयरबैग्स शामिल हैं. कार के साथ टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम और आईसोफिक्स चाइड सीट माउंट के साथ बहुत काम आने वाला एमरजेंसी स्टॉप सिग्नल फीचर दिया गया है.

oi4k64mo

कीमत

पेट्रोल i20 को खास कीमत पर लॉन्च किया गया है जो रु 6.80 लाख है, लेकिन मुकाबले में बेस वेरिएंट की तुलना करें तो मारुति सुज़ुकी बलेनो से नई i20 रु 1.16 लाख महंगी है, वहीं ग्लान्ज़ा की तुलना में यह रु 21,000 सस्ती है. यह होंडा जैज़ और फोक्सवैगन पोलो से भी महंगी है. लेकिन अल्ट्रोज़ से तुलना करें तो क्या है इस कार का परिणाम? ह्यून्दे की नई जनरेशन i20 की तुलना में टाटा अल्ट्रोज़ के पेट्रोल और डीजल दोनों वेरिएंट सस्ते हैं. अल्ट्रोज़ का पेट्रोल टॉप मॉडल करीब रु 1.81 लाख सस्ता है, वहीं डीजल टॉप मॉडल रु 1.51 लाख सस्ता है.

kab9hm5cटर्बो इंजन इस कार को शानदार प्रदर्शन वाली बनाता है
0 Comments

तो हां, i20 इसके मुकाबले की सभी कारों में सबसे महंगी है, और तो और यह कीमत खास है जिसे 1 जनवरी 2021 से बदल दिया जाएगा. तो क्या यह इस कीमत पर पैसा वसूल कार कही जाएगी? कार में मिले सभी फीचर्स के आधार पर देखें तो यह अलग ही मामला है, इसके अलावा टर्बो इंजन इस कार को शानदार प्रदर्शन वाली बनाता है. राइड और हैंडलिंग के मामले में इस कार को पूरे अंक मिलते हैं, लेकिन क्या इसे सेगमेंट में आगे खड़ी कार के रूप देखा जाना चाहिए? इस कार को नया बेंचमार्क कहा जाना बिल्कुल सही होगा!

आप जिसमें इंटरेस्टेड हो

नाइ कार मॉडल्स

Be the first one to comment
Thanks for the comments.