carandbike logo

जल्द तैयार होगा दिल्ली देहरादून कॉरिडोर, यात्रा समय होगा सिर्फ 2.5 घंटा

यह देश का पहला राजमार्ग होगा जहां वन्यजीवों की सुरक्षा के लिए 12 किलोमीटर लंबा एलिवेटेड कॉरिडोर होगा.

पूरे कॉरिडोर को न्यूनतम 100 किमी प्रति घंटा की गति के साथ ड्राइविंग के लिए डिजाइन किया गया है. expand फोटो देखें
पूरे कॉरिडोर को न्यूनतम 100 किमी प्रति घंटा की गति के साथ ड्राइविंग के लिए डिजाइन किया गया है.

केंद्र सरकार की मानें तो दिल्ली और देहरादून के बीच के सफर में लगने वाला 6.5 घंटे का समय जल्द ही सिर्फ 2.5 हो जाएगा. दिल्ली-सहारनपुर-देहरादून आर्थिक कॉरिडोर, जिस पर काम चल रहा है, बन कर तैयार हो जाने पर दोनों शहरों के बीच की दूरी 235 किलोमीटर से घटकर 210 किलोमीटर हो जाएगी और यात्रा अवधि केवल 2.5 घंटा रह जाएगी. यह देश का पहला राजमार्ग होगा जहां वन्यजीवों की सुरक्षा के लिए 12 किलोमीटर लंबा एलिवेटेड कॉरिडोर होगा. ईपीसी मोड के तहत परियोजना को पूरा करने का निर्णय लिया गया है.

kogfa3lo

दिल्ली के अक्षरधाम से देहरादून तक की पूरी लंबाई को 4 हिस्सों में बांटा जाएगा. 

इस कॉरिडोर पर ड्राइविंग करने वालों को बेहतर अनुभव देने के लिए हर 25-30 किमी की दूरी पर सुविधाओं का प्रावधान किया गया है. केवल उपयोग किए गए राजमार्ग की सीमा तक भुगतान करने में सक्षम बनाने के लिए क्लोज्ड टोल मैकेनिज्म को अपनाया जाएगा. कॉरिडोर के विकास से इसके आसपास के क्षेत्र में अर्थव्यवस्था को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है, विशेष रूप से उत्तराखंड में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा.

यह भी पढ़ें: अनिवार्य होने बाद देश में पहले दिन बिके 2.5 लाख फास्टैग

0 Comments

दिल्ली के अक्षरधाम से देहरादून तक की पूरी लंबाई को 4 हिस्सों में बांटा जाएगा. पहले हिस्से में 6 लेन हाईवे के साथ छह लेन सर्विस रोड बनाया जा रहा है. यह दिल्ली की गीता कॉलोनी, खजुरीखास, मंडोला आदि से होकर गुजरेगा. दूसरा हिस्सा पूरी तरह से 6 लेन ग्रीनफील्ड योजना है जो बागपत, शामली, मुजफ्फरनगर और सहारनपुर जिलों से गुजरती है. तीसरा हिस्सा सहारनपुर बाईपास से शुरू होता है और गणेशपुर पर समाप्त होता है. आख़िरी हिस्सा मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड राज्य में आरक्षित वन से होकर गुजरेगा.

आप जिसमें इंटरेस्टेड हो

नाइ कार मॉडल्स

Be the first one to comment
Thanks for the comments.