भारत में नई बाइक और कारें

लॉकडाउन के चलते टोयोटा के बेंगलुरु प्लांट में कामकाज फिर रोका गया

language dropdown

कर्नाटक सरकार द्वारा जारी किए गए निर्देशों के अनुसार यह कदम उठाया गया है. बेंगलुरु में एक हफ़्ते के लिए लॉकडाउन लगाया गया है.

expand फोटो देखें
14 जुलाई (दूसरी शिफ्ट) से 22 जुलाई (पहली शिफ्ट) तक बिदादी कारख़ाने में उत्पादन नहीं होगा.

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर (TKM) ने कहा है कि 14 जुलाई (दूसरी शिफ्ट) से 22 जुलाई (पहली शिफ्ट) तक कर्नाटक के बिदादी में उसके प्लांट में गाड़ियों का उत्पादन नहीं किया जाएगा. यह कर्नाटक सरकार द्वारा जारी किए गए नए लॉकडाउन निर्देशों के अनुसार और साथ ही सरकार को समर्थन देने के लिए किया गया है. बेंगलुरु में इस एक हफ़्ते के लिए लॉकडाउन दोबारा लगाया गया है. मार्च में लगे लॉकडाउन से पहले भी कंपनी ने सबसे पहले बिदादी कारख़ाने में उत्पादन को निलंबित कर दिया था. यह सभी कर्मचारियों की सुरक्षा और भलाई सुनिश्चित करने के लिए किया गया था.

ded2gmuk

अभी तक टोयोटा प्लांट के 18 कर्मियों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि कर चुकी है

पिछले महीने, कंपनी ने इसी प्लांट के दो कर्मचारियों को घातक वायरस से संक्रमित होने के बाद कामकाज को निलंबित कर दिया था. हालांकि, सभी सुविधाओं का सेनिटाइज़ेशन करने के बाद, जल्द ही उत्पादन फिर से शुरू किया गया था. कारख़ाने में कुल मामलों की संख्या बढ़कर अब 18 हो गई है. कंपनी ने साथ ही यह भी कहा कि पहले 14 संक्रमित कर्मचारियों में से 5 अब सफलतापूर्वक ठीक हो चुके हैं और अस्पताल से छुट्टी के बाद 14 दिनों के अनिवार्य समय घर पर गुज़ार रहे हैं.

यह भी पढ़ें: टोयोटा के बिदादी प्लांट में 4 और कर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए

0 Comments

टोयोटा का कहना है कि उसने यह भी सुनिश्चित किया है कि उसके कर्मचारियों और उनके परिवारों को लॉकडाउन की अवधि के दौरान शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों के लिए आवश्यक पेशेवर सहायता मिले. लॉकडाउन के बाद कारख़ाने में काम शुरु होने के बाद कंपनी का केवल 40 से 45 प्रतिशत काम में भाग ले रहा था ताकि सामाजिक दूरी के सभी मानदंडों को बनाए रखा जा सके. हर रोज़ सभी कर्मचारियों को अपने स्वास्थ्य की स्थिति के बारे में कंपनी को बताना होता है.

लेटेस्ट न्यूज़