भारत में नई बाइक और कारें

WR-V के साथ CVT गियरबॉक्स नहीं देगी होंडा, जानें क्या है इसकी वजह

होंडा इंडिया WR-V को CVT यूनिट में लॉन्च करने का प्लान लगभग ड्रॉप कर चुकी है. टैप कर जानें कंपनी क्यों कर रही CVT गियरबॉक्स से किनारा?

फोटो देखें
ये क्रॉसओवर सब-4 मीटर मॉडल है जिसे होंडा ने आकर्षक SUV लुक दिया है

होंडा ने साल 2016 में WR-V लॉन्च की थी और लॉन्च के बाद से ही देश में इस कार को काफी पसंद किया जा रहा है. भारत पहला बाज़ार है जहां कंपनी ने वैश्विक रूप से इस कार को लॉन्च किया था. होंडा की ये क्रॉसओवर सब-4 मीटर मॉडल है जिसे होंडा ने आकर्षक एसयूवी लुक दिया है और इस सैगमेंट में सबसे पहले मुहैया कराए गए कुछ फीचर्स भी दिए थे. अब होंडा इंडिया WR-वी को CVT ट्रांसमिशन के साथ भी लॉन्च करने का प्लान लगभग ड्रॉप कर चुकी है. यह कार सबकॉम्पैक्ट SUV और प्रिमियम हैचबैक के बीच कहीं जगह घेरती है, हालांकि ये कार प्रिमियम हैचबैक सैगमेट में ही आती है. भारत में लॉन्च के बाद से ही कंपनी इस कार की औसतन 4,000 यूनिट हर महीने बेचती है.

ये भी पढ़ें : जेनेवा मोटर शो 2018: होंडा ने पेश की फंकी अर्बन EV कॉन्सेप्ट, 2019 में आएगा प्रोडक्शन मॉडल!

होंडा डब्ल्यूआर-वी

8.15 लाख * ऑन-रोड प्राइस (नई दिल्ली)
होंडा डब्ल्यूआर-वी

होंडा इंडिया ने नई WR-V की अंडरपिनिंग कंपनी की ही कार होंडा जैंज़ से ली गई है और कार का इंजन भी जैज़ से ही लिया गया है. होंडा WR-V दोनों पेट्रोल और डीजल इंजन में उपलब्ध है और 1.2-लीटर i-VTEC के साथ 1.5-लीटर i-DTEC इंजन के साथ बेची जा रही है. कार का पेट्रोल इंजन 89 bhp पावर और 110 Nm पीक टॉर्क जनरेट करता है, वहीं इसका डीजल इंजन 99 bhp पावर और 200 Nm पीक टॉर्क जनरेट करने वाला है. WR-V का पेट्रोल वेरिएंट 17.5 किमी/लीटर का माइलेज देता है. होंडा ने इस कार में 5-स्पीड मैन्युअल और डीजल कार में 6-स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स दिया है.

ये भी पढ़ें : होंडा कार खरीदने का बना रहे हैं प्लान तो यही है बेस्ट टाइम, कंपनी जल्द बढ़ाएगी कारों की कीमतें

0 Comments

होंडा WR-V में फिलहाल कंपनी का ट्राइड एंड टेस्टेड CVT गियरबॉक्स नहीं दिया गया है जो होंडा जैज़ में सर्विस दे रहा है. कंपनी के सूत्रों ने कार एंड बाइक को बताया कि, “भारतीय बाज़ार में होंडा WR-V को ऑटोमैटिक गियरबॉक्स के साथ लॉन्च करने का कोई इरादा नहीं है.” यहां तक कि ऑटो एक्सपो 2018 के दौरान होंडा कार्स इंडिया के प्रेसिडेंट योशिरो उएनो ने भी कहा था कि, भारत में ऑटोमैटिक गियरबॉक्स लॉन्च करने से बाज़ार में थोड़ी बढ़त दर्ज की जा सकती है, लेकिन यह बहुत प्रभाव नहीं छोड़ेगी इसीलिए कंपनी फिलहाल WR-V में CVT गियरबॉक्स से दूरी बनाए हुए है. यहां तक टाटा नैक्सन और मारुति सुज़ुकी ब्रेज़ा में भी ऑटोमैटिक गियरबॉक्स मुहैया नहीं कराया गया है.

कम्पेयर होंडा डब्ल्यूआर-वी मौजूदा प्रतिद्वंदियों के साथ

Be the first one to comment
Thanks for the comments.