भारत में नई बाइक और कारें

मारुति सुज़ुकी ने रिकॉल की 1.35 लाख वैगनआर और बलेनो, जानें क्या है वजह

language dropdown

प्रभावित हुई वैगनआर का उत्पाद 15 नवंबर 2018 से 15 अक्टूबर 2019 के बीच हुआ है, वहीं बलेनो का उत्पादन 8 जनवरी 2019 से 4 नवंबर 2019 के मध्य हुआ है.

expand फोटो देखें
कारों के प्रभावित मॉडल्स में संभावित रूप से फ्यूल पंप में समस्या आई है

मारुति सुज़ुकी इंडिया ने स्वैच्छिक रूप से 1-लीटर इंजन वाली वैगनआर और बलेनो पेट्रोल की 1,34,885 यूनिट रिकॉल की हैं. वैगनआर को मारुति सुज़ुकी अरेना डीलरशिप द्वारा बेचा जा रहा है, वहीं बलेनो की बिक्री प्रिमियम नैक्सा चैनल द्वारा की जा रही है. इन दोनों कारों में प्रभावित हुई वैगनआर का उत्पाद 15 नवंबर 2018 से 15 अक्टूबर 2019 के बीच किया गया है, वहीं प्रभावित बलेनो का उत्पादन 8 जनवरी 2019 से 4 नवंबर 2019 के मध्य किया गया है. इस आंकड़े में कंपनी 56,663 यूनिट वैगरआर और 78,222 यूनिट बलेनो की जांच करेगी. बता दें कि इन दोनों कारों के प्रभावित मॉडल्स में संभावित रूप से फ्यूल पंप में समस्या आई है जिसके चतले कंपनी ने ये रिकॉल जारी किया है.

p316p33gकंपनी 56,663 यूनिट वैगरआर और 78,222 यूनिट बलेनो की जांच करेगी

मारुति सुजुकी

मारुति सुजुकी कारें

रुति सुज़ुकी दोनों कारों की जांच और खराबी वाला पुर्ज़ा बदलने का काम मुफ्त में करेगी. इस रिकॉल कैम्पेन में शामिल किए गए सभी प्रभावित वाहनों के मालिकों से कंपनी जल्द ही संपर्क करेगी. रिकॉल के दायरे में आए वाहनों का पता लगाने के लिए मारुति सुज़ुकी और नैक्सा की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर 'आईएमपी कस्टमर इंफो' पर जाएं और ज़रूरी जानकारी के ज़रिए इसकी जानकारी ले सकते हैं. वेबसाइट पर आपको वाहन का 14 अंकों वाला चेसिस नंबर डालना होगा, इसके बाइ सभी निर्देशों का पालन करते रहने के बाद आपको आपके वाहन की जानकारी मिल जाएगी.

ये भी पढ़ें : मारुति सुज़ुकी XL5 टेस्टिंग के दौरान भारत में दिखी, वैगनआर का प्रिमियम मॉडल

0 Comments

इससे पहले मारुति सुज़ुकी ने पिछले साल कुछ पेट्रोल हाईब्रिड कारों के एसएचवीएस वेरिएंट्स के लिए भी रिकॉल जारी किया था जिनमें सिआज़, अर्टिगा और एक्सएल6 शामिल हैं. इन वाहनों का उत्पादन 1 जनवरी 2019 और नवंबर 2019 के बीच किया गया था. उस समय कंपनी ने कुल 63,493 पेट्रोल एसएचवीएस सिआज़, अर्टिगा और एक्सएल6 में संभावित रूप से मोटर जनरेटर यूनिट में परेशानी आने पर जांच की थी.

कम्पेयर मारुति सुजुकी रों-प्रेस्सो मौजूदा प्रतिद्वंदियों के साथ

लेटेस्ट न्यूज़